Hindi News

5 important tests for women after the age of 40 give indications about dangerous diseases

पुरुषों की तुलना में महिलाओं का शारीरिक स्वास्थ्य अधिक जटिल और संवेदनशील होता है। जिस वजह से उन्हें अपनी सेहत का ज्यादा ध्यान रखना चाहिए। शरीर में हार्मोन के स्तर में अक्सर उतार-चढ़ाव, पीरियड्स और बढ़ती उम्र के कारण उन्हें अधिक शारीरिक कमजोरी और समस्याओं का अनुभव करना पड़ सकता है। इसलिए विशेषज्ञों के अनुसार 40 की उम्र के बाद महिलाओं को नियमित अंतराल पर कुछ जांच करानी चाहिए, ताकि समय रहते किसी भी खतरे से बचा जा सके। आइए, जानते हैं 40 साल की उम्र के बाद महिलाओं के लिए कौन से टेस्ट (महिलाओं के लिए हेल्थ चेकअप) बेहद जरूरी हो जाते हैं, जो खतरनाक बीमारियों का भी संकेत देते हैं।

महिलाओं के लिए कौन से 5 टेस्ट जरूरी हैं?
40 की उम्र के बाद महिलाओं को नियमित अंतराल पर निम्नलिखित जांच करानी चाहिए। पसंद-

स्तन कैंसर परीक्षण (breast cancer test)
महिलाओं के शरीर की संरचना में स्तन सबसे ज्यादा फर्क करते हैं। किसी भी उम्र की महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा हो सकता है, लेकिन यह खतरा उम्र के साथ गहराता जाता है। इसलिए अगर आपकी उम्र 40 के पार हो गई है तो नियमित ब्रेस्ट जांच कराना न भूलें। ब्रेस्ट की जांच करने के लिए आप हर दो से तीन हफ्ते में घर पर ही फिजिकल टेस्ट कर सकती हैं। इसके लिए आप उन्हें छूकर जांच सकते हैं कि कहीं उनमें गांठ तो नहीं है, अगर आपको किसी तरह की गांठ महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं. इसके अलावा साल में एक बार पैप स्मीयर और मैमोग्राम टेस्ट भी करा सकते हैं। कैंसर का जल्द पता लगने से इसके ठीक होने की संभावना काफी बढ़ जाती है।

कोलेस्ट्रॉल टेस्ट (Cholesterol Test)
शरीर में कोलेस्ट्रॉल का अत्यधिक स्तर हृदय रोग और स्ट्रोक का मुख्य कारण बन सकता है। हालांकि, कुछ आहार और जीवनशैली में बदलाव करके उच्च कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है। लेकिन इसे नजरअंदाज करने के खतरनाक परिणाम हो सकते हैं। 40 के बाद की महिलाओं को हर 3-4 साल में एक बार कोलेस्ट्रॉल टेस्ट करवाना चाहिए। आपका कुल कोलेस्ट्रॉल 200mg/dL से कम होना चाहिए।

महिलाओं के लिए आवश्यक परीक्षण: ऑस्टियोपोरोसिस परीक्षण (Essential test for women: Osteoporosis test)
ऑस्टियोपोरोसिस एक ऐसी बीमारी है जिसमें आपकी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और उनमें चोट या फ्रैक्चर का खतरा अधिक होता है। आंकड़ों के मुताबिक यह बीमारी पुरुषों से ज्यादा महिलाओं को प्रभावित करती है। महिला स्वास्थ्य वेबसाइट के अनुसार, ऑस्टियोपोरोसिस से प्रभावित 10 मिलियन अमेरिकी रोगियों में से 8 मिलियन केवल महिलाएं हैं। बढ़ती उम्र के साथ महिलाओं में इसका खतरा काफी बढ़ जाता है। इसकी जांच के लिए आप DEXA स्कैन करवा सकते हैं। आपकी हड्डी के स्वास्थ्य को देखकर डॉक्टर बता सकते हैं कि आपको यह परीक्षण कितने समय तक करना चाहिए।

blood pressure test
बढ़ती उम्र के साथ हाई ब्लड प्रेशर एक आम समस्या है। लेकिन यह जितना आम है, गंभीर समस्याएं पैदा कर सकता है। यदि उच्च रक्तचाप को नियंत्रित नहीं किया जाता है, तो यह दिल का दौरा और स्ट्रोक का कारण बन सकता है। हालांकि, दवाओं और जीवनशैली में बदलाव की मदद से इसे नियंत्रित किया जा सकता है। आपको डॉक्टर द्वारा बताए गए अंतराल पर नियमित रूप से अपने रक्तचाप की जांच करते रहना चाहिए। इसके लिए आप घर पर ही ब्लड प्रेशर मॉनिटर लाकर रख सकते हैं।

महिलाओं के लिए जरूरी टेस्ट: ब्लड शुगर टेस्ट
अगर आपकी जीवनशैली स्वस्थ नहीं है और आप अस्वास्थ्यकर भोजन, धूम्रपान और शराब का सेवन करते हैं, तो आपको ब्लड शुगर टेस्ट जरूर करवाना चाहिए। वैसे तो डायबिटीज किसी को भी हो सकती है, लेकिन ये चीजें इसके खतरे को बढ़ा देती हैं। आपको नियमित अंतराल पर अपने उपवास रक्त शर्करा के स्तर की जांच करवानी चाहिए। आप घर पर भी रैंडम ब्लड शुगर टेस्ट कर सकते हैं।

Source

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
DMCA.com Protection Status